Custom Search 1

ई.आर.नेट इंडिया पर वेबसाइट हॉस्टिंग के दिशानिर्देश

ई.आर.नेट इंडिया पर वेबसाइट हॉस्टिंग के दिशानिर्देश

ई.आर.नेट सर्वर पर वेबसाइट हॉस्टिंग संबंधी दिशानिर्देश

1. ई.आर.नेट द्वारा हॉस्ट की जाने वाली सेवाओं का लाभ लेने के लिए नीचे उल्लिखित विभिन्न भरे हुए फार्मों के साथ webhosting[at]eis[dot]ernet[dot]in को अधिकारिक तौर पर मेल करें।

2. ई.आर.नेट सर्वर पर वेबसाइट हॉस्टिंग की सुविधा के लिए उपयोगकर्ता को निम्नानुसार फिल्ड-इन फार्म को प्रेषित करना होता है:

3. ई.आर.नेट सर्वर पर वेबसाइट हॉस्ट करने के लिए, उपयोगकर्ता को निम्नानुसार वेबसाइट कंटेंट की सॉफ्टकॉपी प्रेषित करनी होती है

  • उपयोगकर्ता को वेबसाइट कंटेंट की सॉफ्टकॉपी सीडी अथवा डीवीडी में कूरियर के माध्यम से अथवा स्वयं भिजवानी होगी, जिसके साथ संलग्न पत्र में वेबसाइट के स्ट्रक्चर का उल्लेख होगा, जैसे डिस्पले होने वाला पहला पेज (index.html, default.html, index.php, index.aspx आदि)। यदि वेबसाइट में डेटाबेस होगा तो उक्त डेटाबेस (यूजरनेम एवं पासवर्ड) का विवरण।
  • यदि वेबसाइट के कंटेंट हिंदी में हों, तो कृपया वेबसाइट तैयार करने के लिए यूनीकोड आधारित फोंट (मंगल) का उपयोग करें।
  • पब्लिक डोमेन में ई.आर.नेट सर्वर पर किसी नई वेबसाइट को हॉस्ट करने से पहले एमपैनल्ड सिक्योरिटी ऑडिटरों से सिक्योरिटी क्लियरेंस प्राप्त करना अनिवार्य है।
  • यदि प्रस्तावित वेबसाइट में कोई वेब-इनेबल्ड मॉड्यूल निहित हो, तो निम्नलिखित पर ध्यान दिया जाए:
  • वेब इनेबल्ड एप्लीकेशन के विकास के लिए साधारण डेटाबेस की बजाय बैक-एंड के रूप में कृपया आरडीबीएमएस (इंटरनेट डेटा सेंटर पर उपलब्ध प्लेटफार्म के अनुसार) का उपयोग करें।
  • वेब इनेबल्ड एप्लीकेशन का सिक्योरिटी ऑडिट एमपैनल्ड सिक्योरिटी ऑडिटरों के माध्यम से वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन के स्वामी द्वारा किया जाना होता है।
  • वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन/वेबसाइट सिक्योरिटी क्लियरेंस रिपोर्ट एवं आई.टी. सिक्योरिटी ऑडिटर के प्रमाण-पत्र के साथ ई.आर.नेट को प्रेषित की जा सकती है।

4. वेबसाइटों/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशंस की सुरक्षा (आईटी सिक्योरिटी ऑडिट) : चूंकि ई.आर.नेट का हॉस्टिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर सिक्योर होता है, यह अनिवार्य है कि ई.आर.नेट सर्वर पर हॉस्ट की जाने वाली समस्त वेबसाइटों/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशंस की कंटेंट सिक्योरिटी के लिए ऑडिट होना चाहिए और रिलीज से पहले उसका सिक्योरिटी क्लियरेंस प्रमाण-पत्र प्राप्त किया जाना चाहिए। ई.आर.नेट सर्वर पर कोई भी वेबसाइट/ वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशंस सिक्योरिटी ऑडिटर से सिक्योरिटी क्लियरेंस प्राप्त किए बिना हॉस्ट नहीं की जा सकती। इसे ई.आर.नेट सर्वर पर हॉस्ट करने के लिए वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन का सिक्योरिटी ऑडिट अनिवार्य है।

  • भारत सरकार ने आईटी सिक्योरिटी ऑडिटरों का एक पैनल बनाया है, जो वेबसाइट के यूआरएल पर उपलब्ध है http://www.cert-in.org.in
  • पैनल से सिक्योरिटी ऑडिटरों के चयन अथवा उनके साथ नेगोसिएशन के लिए ई.आर.नेट की कोई भूमिका नहीं है।
  • यदि उपयोगकर्ता चाहता है कि ई.आर.नेट उसके लिए सिक्योरिटी ऑडिट कराए, तो ई.आर.नेट हॉस्टिंग के टैरिफ के अलावा इस कार्य के प्रभार वसूल करेगा।
  • यदि वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन उपयोगकर्ता द्वारा (अथवा थर्ड पार्टी द्वारा) डिजाइन/विकसित की जाती है, तो सिक्योरिटी ऑडिट की जिम्मेदारी उपयोगकर्ता की होगी। अतः उपयोगकर्ता वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन की विकास प्रक्रिया के अंश के रूप में सिक्योरिटी ऑडिट कर सकता है।
  • सिक्योरिटी ऑडिटर द्वारा अस्थायी तौर पर वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन के रिमोट स्थल से सिक्योरिटी ऑडिट के डिप्लॉयमेंट के लिए ई.आर.नेट स्टेजिंग सर्वर के साथ-साथ डेटाबेस सर्वर की सुविधा प्रदान कर सकता है। उपयोगकर्ता को केवल एक या दो माह के लिए सीमित तौर पर यह सुविधा उपलब्ध कराई जाती है।
  • सामान्यतया, सिक्योरिटी ऑडिटर को उपलब्ध कराई गई वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन के आधार पर ऑडिट किया जाता है। कोई और डायनेमिक कंटेंट जोड़े जाने अथवा एपलीकेशन लॉजिक में परिवर्तन से पुनः सिक्योरिटी संबंधी ऑडिट कराया जाता है। उपयोगकर्ता तो ऑडिट की इस अवधारणा की जानकारी होनी चाहिए ताकि ई.आर.नेट सर्वर पर वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन की सुरक्षित उपलब्धता सुनिश्चित हो सके।

5. ई.आर.नेट निम्नलिखित डोमेन मेनटेन करता है, जिनमें, ERNET.IN, EDU.IN, AC.IN,RES.IN. ERNET.IN डोमेन विशेष तौर पर ई.आर.नेट संबंधी वेबसाइटों/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशंस से संबंधित है, जबकि, EDU.IN, AC.IN, RES.IN. डोमेन शैक्षणिक/एकेडमिक एवं अनुसंधान विभागों/संगठनों की वेबसाइटों/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशंस से संबंधित है। तथापि, वेबसाइट/वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन आरंभ में हॉस्टिंग और मेनटेनेंस के उद्देश्य से केवल ERNET.IN डोमेन पर उपलब्ध कराई जा सकती है।

  • भारत सरकार की नीति के अनुसार, उपयोगकर्ता को पब्लिक डोमेन में वेबसाइट की रिलीज के लिए इच्छित डोमेन प्राप्त करना होता है [अर्थात्, शैक्षणिक/एकेडमिक एवं अनुसंधान विभागों/संगठनों के लिए EDU.IN, AC.IN,RES.IN.] ।
  • EDU.IN, AC.IN, RES.IN के अंतर्गत डोमेन को इस वेबसाइट के माध्यम से पंजीकरण कराया जा सकता हैwww.registry.ernet.in

टिप्पणी: -

  • “भारत सरकार की वेबसाइटों” के लिए भारत सरकार द्वारा अपनाए गए दिशानिर्देशों के अनुसार वेबसाइट तैयार एवं विकसित की जा सकती है। आपकी सुलभता के लिए दिशानिर्देश वेबसाइट के यूआरएल www.web.guidelines.gov.in पर उपलब्ध हैं और आप वेबसाइट पर अपना पंजीकरण करवाकर उन्हें देख अथवा डाउनलोड कर सकते हैं।
  • सभी अपेक्षित भरे जाने वाले फार्म (दस्तावेज में उल्लिखित) एवं अन्य अपेक्षित उपलब्ध दस्तावेज ई.आर.नेट की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं https://www.ernet.in/
  • समस्त स्टेटिक वेबसाइट अथवा वेब-इनेबल्ड एप्लीकेशन एम्पैनल्ड सिक्योरिटी ऑडिटर से सिक्योरिटी क्लियरेंस प्राप्त करने के बाद ई.आर.नेट (प्रोडक्शन) सर्वर पर उपलब्ध कराई जा रही हैं। अतः, यह ध्यान योग्य है कि वेबसाइट (ई.आर.नेट सर्वर पर ऑपरेशन/रनिंग) पर डायनेमिक कंटेंट में किसी परिवर्तन अथवा रनिंग एपलीकेशन के एप्लीकेशन लॉजिक में किसी परिवर्तन से संबंधित उपयोगकर्ता संगठन को पुनः सिक्योरिटी संबंधी ऑडिट कराना पड़ सकता है। अतः, कृपया सुनिश्चित करें कि सर्वर पर लोड की जा रही कोई भी एप्लीकेशन एम्पैनल्ड सिक्योरिटी ऑडिटर द्वारा क्लियर की जाती हो। आई.टी. सिक्योरिटी ऑडिटरों के पैनल संबंधी विवरण इस यूआरएल से देखे जा सकते हैं http://www.cert-in.org.in.

ई.आर.नेट इंडिया वेबसाइट अपडेशन प्रक्रिया